हम भारत माँ की सन्तान

June 24, 2023
0
0
post-image

मेरी भारत माँ का अभिमान,
तोड़ने की ली गर जिसने ठान |


तो हम लेलेंगे उनकी जान,
करेंगे न बर्दाश्त अपमान |


माँ है हमारी स्वाभिमान
इसके लिए भले जाए जान |


न्यौछावर कर अपना प्राण,
बचाएँगे हम इसकी शान,
हम भारत माँ की सन्तान |


चीन हो या हो पाकिस्तान,
छोड भगेंगे सब मैदान |


हमको हराना नहीं आसान,
करेंगे तेरा काम तमाम |


खड़े सरहद पर हम सीना तान,
बचाने अपनी माँ की आन,
हम भारत माँ की सन्तान |

Written by

gyanadmin

Leave a Reply